तितली आसान( Butterfly asasna ) को करने का तरीका और इसके फायदे

  तितली आसन( Butterfly asasna )


नमस्कार दोस्तों
दोस्तों आज हम बात करने वाले है  एक ऐसे योग आसन की जो काफ़ी मजेदार है।  जिसका नाम है तितली आसान। जैसा की इसके नाम से ही प्रतीत होता है आपको अपने दोनों पैरो को हाथों से पकड़ कर इस प्रकार हिलना है जैसे एक तितली उड़ते हुए अपने पँखो को हिलाती है। इसे आप अपने घर पर आसानी से अभ्यास कर सकते है।  अंग्रेजी में इस आसन को बटरफ्लाई पोज़ कहा जाता है। तो आइए जानते है तितली आसान को करने का तरीका और फायदे :-
image source; google

तितली आसन को करने का तरीका :-


1.  तितली आसन को करने के लिए सबसे पहले समतल और साफ जगह का चयन करे और अपना आसन लगाए।
2. पैरो को सामने की तरफ फैलाते हुए बैठ जाए और कमर सीधी रखें।
3. अब घुटनों को मोड़े और दोनों पैरों के तलवों को आपस में मिलाए।
4. अपने दोनों हाथों से पैरो को पकड़े और गहरी लम्बी साँस लेते हुए ,
5. अपने घुटनो और झांग  को हिलाए जैसे एक तितली अपने पँखो को हिलती है।
6. अपनी समता के अनुसार स्पीड को बढ़ा सकते है कुछ समय ऐसे ही हिलते रहे।
7. अब पैरो को हिलना धीमा करें और गहरी लम्बी श्वास लेकर छोड़ते हुए आगे की तरफ़ झुके ,कमर और रीड़ की हडडी में खिचाव आने दें।
8. अब गहरी लम्बी स्वास लेते हुए गर्दन को ऊपर उठाए और साधारण अवस्था में आ जाए।

तितली आसन करने के फायदे :-


1. तितली आसन करने से अंदरूनी जांघ की मांसपेशियों में बहुत खिचाव होता है, जो इस आसन से ख़त्म हो जाता है।
2. तितली आसन पैरो की थकान दूर करता करता है।
3. गर्भवती महिला की गर्भावस्था में लाभदायक है।
4. तितली आसन आँतों को मजबूत बनाता है।
5. इस आसन से पैरो में खून का बहाव ठीक रहता है।
6. गठिया और जोड़ो के दर्द में इस आसन को करने से काफ़ी आराम मिलता है।
 

Comments